samajik kranti

Just another weblog

69 Posts

1987 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 7604 postid : 317

आज का भगत सिंह

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आज का भगत सिंह
अरविन्द जी ने IIT खरगपुर ,उत्तर प्रदेश से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की परीक्षा अच्छे अंकों सेउतीण कर डिग्री प्राप्त की जो अरविन्द जी को देश विदेश कही भी अधिक सैलरी वाली नौकरी दिला सकती थी ! अरविन्द जी चाहते तो मल्टीनेशनल कंपनी मे और लोगों की तरह लाखो की सैलरी वाली नौकरी कर सकते थे पर उन्होंने आईएएस (IAS ) की तैयारी इसलिये की, कि वह देश के लिए कुछ कर सके !
1993 मे उन्होंने सिविल सर्विस मे सफलता के साथ IRS सेवा मे शामिल हुए , पर जब अरविन्द जी ने लोकसेवा के नाम पर होने वाले घोटालों और ऑफिस में भ्रष्टाचार से लिप्त सेवाएँ देखी तो उन्होंने परिवर्तन नाम से एक सस्था की शुरुवात की, जो सरकारी ऑफिस मे भ्रष्टाचार से होने वाली शिकायतों पर मदद करती थी !
वे “पर्वितन ” मे काम करने के लिए 2000 में IRS सेवा से छुटी लेकर तन मन धन से गरीब लोगों की सेवा मे लग गए !
तभी RTI कानून के बारे मे अरविन्द जी को पता चला जो महाराष्ट्र मे अन्ना जी और अरुणा जी द्वारा लाया गया था अरविन्द जी ने देखा की RTI के कानून से हम भ्रष्टाचार पर लगाम लगा सकते है तो वे RTI कानून की जानकारी पूरे देश मे जगह जगह घूम कर लोगो को समझाया और RTI कानून से
सरकारी कामों में भ्रष्टाचार का कैसे पर्दाफाश करें लोगों तक ले गए !
उन्होंने अपनी संस्था “PCRI ” से RTI अवार्ड ,RTI एक्टिविस्टओ को दिए की उनका मनोबल बड़े और वोह और RTI द्वारा भ्रष्टाचार का पर्दाफाश करे !
पर धीरे धीरे RTI एक्टिविस्ट लोगो पर भ्रष्टाचार करने वाले गुंडे और राजनेता लोगो के जुल्म और अत्याचार करने लगे , करीब देश भर मे 100 से अधिक RTI एक्टिविस्ट लोगो का कत्ल हो गया !
पर किसी एक को भी इन्साफ नहीं मिला , तब अरविन्द जी इस बात से अवगत हुए कि जब तक कोई कड़ा कानून नहीं आयेगा जो
भ्रष्टाचार करने वाले लोगों को कड़ी सजा दिल सके, तब तक देश का सुधर नहीं हो सकता !
तब अरविन्द जी ने प्रशांत भूषण जी के साथ मिलकर , जन लोकपाल कानून पर काम किया और अन्ना हजारे जी से अनुरोध किया कि अन्ना जी जन लोकपाल के लिए साथ मे आकर , देश को जागरूक करें!
लेकिन2010 से 2012 तक , अनशन करने पर भी देश की सरकार ने जनलोकपाल कानून को पास नहीं किया ! इसका एकमात्र कारण ये था की देश की संसद मे खुद चोर , डाकू, लूटेरे और बलात्कारी है जो खुद कभी जन लोकपाल कभी नहीं ला सकते !
तब अरविन्द जी ने ये व्यवस्था बदलने के लिए आम आदमी पार्टी बनाई ! और आज AAP पार्टी का एक ही उद्देश्य है , पूर्ण व्यवस्था परिवर्तन! आओ हम सब आम आदमी पार्टी से जुड़कर पूर्ण व्यवस्था परिवर्तन के मिशन को एक जनक्राँति बना दें, और अच्छे ईमानदार लोंगो को संसद तथा बेइमान भ्रष्ट लोंगो को जेल पहुँचा देंगे। जागो इंडिया जागो……..



Tags:       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran